मैं रंडी कैसे बनी

antarvasna, desi sex kahani

हाय गाइस कैसे हैं आप सभी ? मैं आशा करती हूँ कि आप सभी अच्छे होंगे | मेरा नाम रचना पाठक है और मैं रोहतक की रहने वाली हूँ | मेरी उम्र 27 साल है और मैं कंप्यूटर ऑपरेटर हूँ | मेरा रंग गोरा है और मेरी हाईट 5 फुट 5 इंच है इसी के साथ ही मेरे शरीर की बनावट एक मछली के जैसी है | दोस्तों मुझे इस साईट के जरिये आप लोगो से एक बात शेयर करना चाहती थी | मुझे इस साईट के बारे में मेरी एक दोस्त रेखा ने बताया जो कि एक कॉल गर्ल है | तभी से मैं सोच रही थी कि आप लोगो के सामने अपनी एक कहानी पेश करूँ | तो गाइस आज जो मैं आप लोगो के सामने अपनी कहानी पेश करने जा रही हूँ ये मेरे जीवन की पहली कहानी है और मेरे जीवन की एक दम सच्ची घटना है | मैं आशा करती हूँ कि आप सभी को मेरी कहानी जरुर पसंद आएगी और मेरी कहानी पढ़ कर आनंद भी आएगा | तो अब मैं आप सभी का ज्यादा समय नहीं लूंगी और अपनी कहानी शुरू करती हूँ |

ये घटना काफी समय पहले की है | मेरे घर में, मेरी मम्मी, मेरे पापा रहते हैं | मैं जब कॉलेज की पढाई पूरी कर रही थी तभी पापा के साथ एक हादसा हो गया | तो पापा काम पर जाना छोड़ दिए | अब घर की सारी जिम्मेदारी मुझ पर आ गई थी तो मैंने अपनी पढाई बीच में ही छोड़ कर जॉब ढूँढने लगी | फिर मुझे एक कंपनी में जॉब मिल गई कंप्यूटर ऑपरेटर की | एक महिना तो जैसे तैसे काटा उसके बाद से रोलिंग चालू हो गई | अब मैं ही घर का पूरा देख रेख कर रही थी | लेकिन मेरी सैलरी बस 7 हजार ही थी | उससे ज्यादा तो कुछ नही हो पाता था लेकिन घर का खाना खर्चा चल जाता था | मैं जिस ऑफिस में काम करती थी वहां हम बस तीन लडकियां ही थी बाकि सब जेंट्स थे | मेरे साथ में काम करने वाली लड़किओं के नाम थे रेखा और सुहाना | सुहाना बहुत ही सीधी सादी लड़की थी और रेखा बहुत ही उज्जड्ड किस्म की लड़की थी | एक बार हम तीनो साथ में बैठ कर लंच कर रहे थे कि तभी रेखा ने अपना मोबाइल निकाला और उसमे उसने ब्लू फिल्म लगा दी | ये देख कर मैंने और सुहाना ने नजरे फेर ली तो रेखा ने कहा कि अबे यार तुम लोग तो ऐसे मुह फेर रहे हो जैसे गू देख लिया हो | तो सुहाना ने कहा कि नहीं यार मुझे ये सब पसंद नहीं है |

मैंने भी उसकी हाँ में हाँ मिला कर कह दिया कि मुझे भी अच्छा नही लगता ये सब | तब रेखा ने कहा कि तुम लोग भी न यार | देखो यार एक जिन्दगी मिलती है यहाँ किसको गम नहीं है इसलिए गम चोदो और जीवन के मजे लूटो बस | इज्जत लुटने से तो अच्छा है कि खुद की मर्जी भी शामिल हो | ये सारी बात सुन कर सुहाना वहां से उठ कर चले गई | लेकिन मैं वहीँ बैठी रही | रेखा ने मुझसे पुछा कि अगर तू जिदगी के मजे लेना चाहती है तो पागल ये सब करना चालू कर दे | मजे भी मिलेंगे और पैसे भी अच्छे खासे मिलेंगे | मैंने कहा नहीं यार ये सब मुझे नहीं करना | उसने कहा ठीक है कोई बात नहीं लेकिन जब भी तुझे लगे तो बता देना | मैंने भी बेमन से हाँ कर दिया | उसके दो  दिन बाद ही पापा की तबियत कुछ ज्यादा ही बिगड़ गई और जब हम हॉस्पिटल ले कर गए तो डॉ. ने कहा की कम से कम 80000 हजार रूपए लग जायेंगे | अब इतनी जल्दी इतनी बड़ी रकम लाना कोई आसान काम तो है नहीं |  फिर मुझे रेखा की कही हुई बात याद आ गई | अब मेरे पास और कोई चारा भी नहीं था | मैंने रेखा को फ़ोन किया और उसे सारी बात बता दी तो उसने कहा कि तू टेंशन मत ले | अभी आजा मेरे घर में मैं तुझे पैसे देती हूँ |

जब मैं उसके घर गई तो उसने मुझे पैसे दे कर कहा देख रचना ! ये पैसे मेरी चुदाई की कमाई के हैं या किसी से कमीशन बेस पर मुझे पैसे मिले हैं | इसलिए मैं तुझे दो महीने का समय देती हूँ आराम से लौटा देना | मैंने कहा ठीक है | उसके बाद मैंने हॉस्पिटल में जा कर पैसे जमा करा दिए | उसके बाद पापा का इलाज भी अच्छे से चलने लगा | जैसे जैसे दो महीने महीने बीत गए | फिर एक दिन रेखा ने मुझसे कहा कि यार मेरी मम्मी की तबियत ख़राब है तो मुझे पैसे की जरुरत है | मैंने कहा यार मेरे पास तो पैसा नहीं है अभी | तो उसने कहा यार पर मुझे तो जरूरत है पैसे की | मैंने थोड़ी देर बाद सोचने के बाद कहा यार वो तू बोल रही थी न सेक्स के बदले पैसे तो मैं तैयार हूँ | उसके बाद उसने मुझे एक घर में ले कर गई और उसने मुझे एक लड़के से मिलवाया |

वो मुझे अपने रूम ले कर गया और मेरे होंठ में अपने होंठ रख कर मेरे होंठ को चूसने लगा | मैं भी उसका साथ देते हुए उसके होंठ को चूसने लगी | हम दोनों ने एक दूसरे के होंठ को 10 मिनट तक चूसे | उसके बाद उसने मेरे टॉप को निकाल दिया और मेरे ब्रा को भी उतार कर मुझे ऊपर से पूरा नंगा कर दिया | अब वो मेरे दोनों दूध को अपने मुंह में ले कर चूसने लगा तो मेरे मुंह से आहा ऊंह ऊम्ह आहा ऊंह ऊम्ह आहा ऊंह ऊम्ह आहा ऊंह ऊम्ह आहा ऊंह ऊम्ह आन्हे निकलने लगी | वो मेरे दूध को जोर जोर से दबाते हुए चूस रहा था और मैं आहा ऊंह ऊम्ह आहा ऊंह ऊम्ह आहा ऊंह ऊम्ह आहा ऊंह ऊम्ह आहा ऊंह ऊम्ह करते हुए सिस्कारियां लेने लगी | उसके बाद उसने अपने भी कपड़े उतार दिया तो मैंने उसके लंड को अपने हाँथ में ले कर हिलाने लगी | फिर मैंने उसके लंड पर अपनी जीभ फेरते हुए चाटने लगी तो उसके मुंह से भी आहा ऊंह ऊम्ह आहा ऊंह ऊम्ह आहा ऊंह ऊम्ह आहा ऊंह ऊम्ह आहा ऊंह ऊम्ह की सिस्कारियां निकलने लगी | मैं उसके लंड को बहुत प्यार से चाटते हुए उसके टट्टे को भी सहला रही थी और वो आहा ऊंह ऊम्ह आहा ऊंह ऊम्ह आहा ऊंह ऊम्ह आहा ऊंह ऊम्ह आहा ऊंह ऊम्ह करते हुए सिस्कारियां लेने लगा | फिर मैंने उसके लंड को अपने मुंह में ले कर चूसने लगी और वो आहा ऊंह ऊम्ह आहा ऊंह ऊम्ह आहा ऊंह ऊम्ह आहा ऊंह ऊम्ह आहा ऊंह ऊम्ह करते हुए सिस्कारिया ले रहा था |

मैं उसके लंड को जोर जोर से आगे पीछे करते हुए चूस रही थी और वो आहा ऊंह ऊम्ह आहा ऊंह ऊम्ह आहा ऊंह ऊम्ह आहा ऊंह ऊम्ह आहा ऊंह ऊम्ह करते हुए मेरे मुंह को अपने लंड से चोद रहा था | उसके बाद उसने मेरी जीन्स और पेंटी को उतार कर मुझे भी पूरी नंगी कर दिया | फिर उसने मुझे लेटा दिया और मेरी टांगो को उठा कर मेरी चूत को चाटने लगा और मैं आहा ऊंह ऊम्ह आहा ऊंह ऊम्ह आहा ऊंह ऊम्ह आहा ऊंह ऊम्ह आहा ऊंह ऊम्ह करते हुए अपने दूध को दबा रही थी | वो मेरी चूत को अपनी जीभ से अन्दर तक चाट रहा था और बीच बीच में चूत के दाने को भी होंठ से दबा कर चूस रहा था और मैं आहा ऊंह ऊम्ह आहा ऊंह ऊम्ह आहा ऊंह ऊम्ह आहा ऊंह ऊम्ह आहा ऊंह ऊम्ह  करते हुए उसके मुंह को अपनी चूत पर दबा रही थी | फिर उसने अपने लंड को मेरी चूत में टिकाया और अन्दर डाल कर चोदने लगा और मैं आहा ऊंह ऊम्ह आहा ऊंह ऊम्ह आहा ऊंह ऊम्ह आहा ऊंह ऊम्ह आहा ऊंह ऊम्ह करते हुए चुदाई के मजे लेने लगी | कुछ देर बाद  उसने अपनी चुदाई तेज कर दिया और जोर जोर से चोदने लगा और मैं आहा ऊंह ऊम्ह आहा ऊंह ऊम्ह आहा ऊंह ऊम्ह आहा ऊंह ऊम्ह आहा ऊंह ऊम्ह करते हुए अपनी गांड उठा उठा कर चुदवा रही थी | फिर उसने मुझे पलटा दिया और मेरे पीछे आ कर मेरी चूत को चोदने लगा और मैं आहा ऊंह ऊम्ह आहा ऊंह ऊम्ह आहा ऊंह ऊम्ह आहा ऊंह ऊम्ह आहा ऊंह ऊम्ह करते हुए अपनी गांड आगे पीछे करते हुए चुदाई में साथ देने लगी | कुछ देर के बाद उसने अपना वीर्य निकाल दिया | उसके बाद उसने मुझे पैसे नगद दिए जिसमे से मैंने पूरे पैसे रेखा को दे दिए | इसके बाद से अब मैं भी एक कॉल गर्ल बन गई और मैंने अपनी पुरानी जॉब छोड़ दी | अब मैं और रेखा दोनों ही साथ में कमाती हैं और हमे बहुत अच्छे पैसे मिल जाते  हैं |

तो दोस्तों ये थी मेरी कहानी | मैं आशा करती हूँ कि आप सभी को मेरी कहानी पसंद आई होगी |