हिना की कमसिन चूत

desi sex kahani, kamukta

दोस्तों मेरा नाम सुमित है। मैं एक 20 वर्ष का युवा हूं। मैंने कॉलेज करने के लिए बेंगलुरु में एडमिशन लिया। अब मेरा कॉलेज में एडमिशन हो गया था। तो मै नया-नया कॉलेज में आया था। मुझे नहीं पता था कि कॉलेज के क्या रूल है। यहां पर किस तरीके से चलता है। मेरा कॉलेज ठीक-ठाक चल रहा था। वहां मेरे कुछ दोस्त बने और वह मुझसे काफी मजे लिया करते थे। मैं थोड़ा शर्मता था। इस वजह से वह सब लोग मेरे साथ मजे लेते थे। मैं  उन्हें कहता रहता था यार मुझे तुम परेशान मत किया करो। मेरा नेचर ही ऐसा है और सब बोलता है तुझे अभी कुछ नहीं पता तू बहुत भोला है। इस वजह से मेरी कई बार झगडा भी हो जाता क्योंकि मैं घर से पहली बार ही बाहर निकला था। तो मेरे अंदर थोड़ी शर्म थी। इस वजह से मैं इस तरीके से शर्मता था। दूसरों को ऐसा लगता था जैसे मैं कुछ नहीं जानता हूं। लेकिन अब मैं धीरे-धीरे सब कुछ सीखने लगा था।

मैं दुनियादारी समझ गया था। अब मैं अपने दोस्तों के साथ भी उठने-बैठने लगा था। सब पार्टी में जाते थे इंजॉय करते थे और काफी मस्तियां किया करते थे। मैंने  अपने दोस्तों से कहा यार तुम लोग तो अच्छी लाइफ जीते हो और काफी इंजॉय भी करते हो। मैं तो ऐसे ही बोरिंग लाइफ जी रहा था। पहले मानो मे कुछ भी ना जानता हूं। जैसे कोई सदमे में हूं। लेकिन अब मैं तुम्हारे साथ रहकर काफी कुछ सीखने लगा हूं। मुझे काफी कुछ पता लग गया है। दोस्तों पहले मैं सिगरेट शराब कुछ नहीं पिया करता था। लेकिन अब मैं यह सब शुरू कर चुका था। अब मैं एक नंबर का नशेड़ी बन गया था। मैं काफी नशा करने लगा था। जिसकी वजह से मेरी पढ़ाई में भी दिक्कते पैदा होने लगी थी। मैं कॉलेज भी कम ही जाता था। ज्यादातर हम लोग ऐसा ही किया करते थे। कॉलेज में मुझे एक लड़की बहुत पसंद आई। मैंने उसे प्रपोज भी किया और काफी दिन उसके आगे पीछे भी घुमा लेकिन उसने मुझे मना कर दिया। फिर भी मैं काफी ट्राई करता रहा। लेकिन वह तब भी ना मानी। जाने उसे मुझ में क्या कमी दिखाई दी। मेरे दोस्तों ने मेरे लिए काफी कुछ किया। उन्होंने उस लड़की को भी समझाया कि वह अच्छा लड़का है। उससे तुम बात किया करो वह बहुत शरीफ है। लेकिन वह लड़की बिल्कुल भी ना मानी और वह कहने लगी नहीं मैं उस से रिलेशन में नहीं रह सकती। जिसकी वजह से मेरा काफी दिल टूटा और मैंने उस दिन जमकर पार्टी की अपने सारे दोस्तों को बुलाया और उन्हें कहा आज मेरी तरफ से तुम्हारे लिए पार्टी है। आज हम लोग एंजॉय करेंगे। हम लोगों ने बहुत इंजॉय किया। उस दिन सब लोगों ने काफी मस्ती की और अपने अपने घर चले गए।

अब अगले दिन जब मैं कॉलेज गया तो वह लड़की भी मुझे कहने लगी सॉरी यार मैं तुम्हारे साथ रिलेशन में नहीं रह सकती क्योंकि मैं किसी और को चाहती हूं। मैंने उस लड़की से बोला कोई बात नहीं लेकिन अंदर ही अंदर मैं यही चाहता था कि वह लड़की मुझे हां कर दे और मेरी लाइफ में आ जाए। लेकिन ऐसा हो ना सका मेरे दोस्तों ने मुझे कहा यार ऐसा तो हो नहीं सकता कि वह तुझे जबरदस्ती हां कह दे। उसकी मर्जी नहीं है तो नहीं हो सकता यह रिलेशन मैंने भी कहा ठीक है चलो छोड़ो जाने दो जो हो गया तो हो गया। कोई फायदा नहीं इन सब बातों को दोहरा कर फिर मेरे दोस्त ने मुझे कहा तू एक काम कर कॉल गर्ल बुला ले। उसी से तू काम चला। तेरा मन भी हल्का हो जाएगा और तुझे काफी अच्छा भी लगेगा लेकिन मुझे इस बारे में कुछ पता नहीं था। मैं इन सब कामों से काफी डरता था। वह कहने लगा डरने की बात कुछ नहीं है। हम लोग एक लड़की को जानते हैं। उसको बुला देते हैं मैंने कहा ठीक है तुम देख लो। तुम्हे जैसा ठीक लगे फिर उन्होंने मुझे उस लड़की का नंबर दिया और कहने लगे इस नंबर पर फोन करना और उससे बात करना। मैंने उस लड़की से बात करनी शुरू की वह लड़की मुझसे अच्छे से बात करने लगी। अब मैं उस लड़की की तरफ अट्रैक्ट होने लगा काफी फोन करने लगा। वह मुझसे बात करने लगी और कहने लगी तुम कहां रहते हो फिर मैंने उसे एक दिन बुला ही लिया। अब जब वह मेरे घर में आई तो और कहने लगी क्या तुम यहां अकेले रहते हो। मैंने कहा हां मैं यहां पर अकेला रहता हूं तो वह खुश हो गई। उसने सीधा मुझसे पैसे की बात की मैंने भी उसे पैसे दे दिए। उस लड़की की उम्र भी कुछ ज्यादा नहीं थी। मुश्किल से मुझसे एक-दो साल ही बड़ी रही होगी। मैं अपने दिल को हल्का करना चाहता था। इसलिए उससे काफी देर तक बात करता रहा।

मैंने उसे सब कुछ बताया कि यार मेरी जिंदगी में एक लड़की आई थी। मैं उसे काफी चाहता था लेकिन मेरा रिलेशन उसे बन ना सका। उसने मुझे बोला यह सब धोखा है। मेरे साथ भी कई बार ऐसा हुआ है इसी वजह से मैं अब एक कॉल गर्ल बन गई हूं। मुझे अलग-अलग लोगों के साथ रहना अच्छा लगता है। और उनकी गम को दूर करना मुझे बहुत अच्छा लगता है। यह कहते हुए वह लड़की मुझे कहने लगी चलो आओ अंदर चलो बिस्तर में वहां पर सेक्स करते हैं। मैं उसे बिस्तर में ले गया और उसने पहले तो मेरा हाथ पकड़ा। मैंने उसके हाथ को चूमना शुरू किया। उसने छोटी सी स्कर्ट पहनी हुई थी और ऊपर से एक शर्ट पहनी हुई थी। मैंने उसके शर्ट के बटन धीरे-धीरे खोलने शुरू किये जैसे ही मैंने उसकी शर्ट खोलें उसके स्तन मुझे बहुत अच्छे लगे। वह गोल गोल और छोटे-छोटे थे ज्यादा बड़े नहीं थे। लेकिन बहुत ही सख्त और कड़क थे। मैंने उसकी ब्रा को अपने हाथ से खोला और धीरे से उसके निप्पल पर एक पप्पी दे दी। अब मैं उसके निप्पल को चूसने लगा और उसका दूध पीने लगा। मैंने उसके दोनों निप्पलों को अच्छे से चुसा जिससे कि उसकी उत्तेजना बढ़ती गई और वह अपने अंदर से मादक आवाज निकालने लगी। उसने भी मेरी टी-शर्ट को उतार दिया और साइड में फेंक दिया। वह भी मेरी छाती को चूमने लगी और मुझे कहने लगी तुम्हारी छाती तो काफी अच्छी है। उसके बाद धीरे-धीरे ऐसा करते हुए उसने मेरे निक्कर को भी उतार दिया। मेरा लंड खड़ा हो रखा था। उसने उसे अपने हाथों से हिलाना शुरू किया और धीरे-धीरे अपने मुंह के अंदर ले लिया। जैसे ही उसने अपने मुंह में लिया वह उसे अंदर बाहर करती और उसे काफी आनंद आने लगा।

वह मुझे कहने लगी मुझे अच्छा लगता है ओरल सेक्स करना। मैंने उसे कहा मुझे भी काफी अच्छा लग रहा है। जब तुम ऐसे कर रहे हो 2 मिनट तक उसने ओरल सेक्स किया। उसके बाद मैंने उसकी स्कर्ट उतार दी और उसकी पैंटी को थोडा साइड कर कर उसकी योनि में अपनी उंगली से सहलाने लगा। जैसे जैसे मैं उस को सहलाता रहता। वह और उत्तेजित होती जाती अब उसको अच्छा लगने लगा था यह सब उसने मुझे बोला मुझसे कंट्रोल नहीं हो रहा है। और मेरी चूत मारो मैंने थोड़ा सा अपने जीभ से उसकी योनि को चाटा। उसके बाद मैंने अपना लंड उसकी योनि में डाल दिया जैसे ही मैंने उसकी योनि में डाला तो उसे बड़ा अच्छा लगा। मैने उसके होठों को किस कर रहा था और धक्का मार रहा था। जैसे-जैसे में धक्का मारता जाता उसे काफी अच्छा लगने लगा। वह मुझे कहने लगी तुम बहुत अच्छे से कर रहे हो। मैंने उसे कहा आज मैं पहली बार सेक्स कर रहा हूं। वह यह बात सुनकर बहुत खुश हो गई और उसने मुझे अपनी टांगों के बीच में जकड़ लिया। अब मुझे थोड़ी मुश्किल हो रही थी धक्का मारने में लेकिन मुझे ऐसा प्रतीत हो रहा था कि उसे काफी अच्छा लग रहा है। जिससे कि उसने अपनी टांगों के बीच में मुझे जकड़ लिया है और अपनी योनि को बहुत टाइट कर लिया है। कुछ देर बाद मुझे ऐसा लगा कि जैसे मेरे लंड पर कुछ गिला गिला सा होने लगा है। मुझे यह लगा कि शायद उसका पानी गिर गया है और वह शांत हो गई। अब मैंने बड़ी तेजी से उसके साथ सेक्स करना शुरू किया 15 मिनट तक मैं उसे शॉट मारता रहा। अब मेरा भी झड़ने को हो गया। मैंने अपने लंड को बाहर निकाला और उसके ऊपर अपना वीर्य गिरा दिया। मुझे ऐसा करने में काफी अच्छा लगा। तब से मैं उस कॉलेज कॉल गर्ल को 1 महीने में तो बुला ही लेता हूं अपने पास और उसके साथ बहुत ही मजे लेता हूं।